7th Pay Comission

नई दिल्लीः केंद्रीय कर्मचारियों और पेंशनधारियों के लिए यह महीना बहुत ही महत्वपूर्ण साबित हो रहा है, जिसकी चर्चा अभी से चल रही है। सरकारी केंद्रीय कर्मचारियों और पेंशनधारियों के डीए में एक बार फिर से धोखा देखा जा सकता है, जो कि ग्रीष्म ऋतु के उपहार के तौर पर भी जा रहा है।

यदि कर्मचारियों का डीए क्रमांक जाता है तो करीब एक करोड़ लोगों को लाभ मिलेगा, क्योंकि वेतन पाने के लिए निश्चित रूप से निर्धारित किया जा रहा है। इसके साथ ही सरकार फिटमेंट फैक्टर में भी गवाह का ऐलान कर सकती है। सरकार ने अभी तक आधिकारिक तौर पर सूचना बढ़ाने की तारीख की कोई घोषणा नहीं की है, लेकिन 30 अप्रैल तक बड़ा दावा किया जा रहा है। अब जल्द ही इस सरकार पर बधाई हो सकती है।

डीए में इतनी वृद्धि होगी

केंद्र सरकार के केंद्रीय कर्मचारियों के डीए में करीब 4 प्रतिशत का योगदान हो सकता है, जिसके कारण बाद में सारस सैलरी को ठीक ठाक करके मोटा होना माना जा रहा है। इसके बाद डीए विस्तार 46 प्रतिशत हो जाएगा, जो वर्तमान में 42 प्रतिशत है। डीए की हुई पोस्ट जुलाई 2023 से लागू होना संभव हो रहा है।

इससे पहले मार्च में डीए 4 प्रतिशत बढ़ा, जो 38 से सीधे 42 प्रतिशत हो गया। इसका कॉम्पैक्ट जनवरी 2023 से लागू की गई। सातवें वेतनमान के अनुसार, वर्षण डीए में दो बार होता है, जो जमा जनवरी और जुलाई से आयोग लागू होते हैं। ऐसे में आप सोच रहे होंगे कि अब 4 प्रतिशत डीए बढ़ रहा है तो फिर सैलरी में कितना फायदा होगा, जिसे जानने के लिए आपको नीचे कैलक्यूएशन को समस्या होगी।

वेतन इतना बढ़ जाएगा

केंद्रीय कर्मचारियों और पेंशनधारियों को अमृत सैलरी के तौर पर 30 हजार रुपये मिल रहे हैं तो इसमें अब 4 फीसदी का डीए और जोड़ दिया जाएगा। इस होश से 1,200 रुपये प्रति माह सैलरी में अटका हुआ माना जा रहा है। प्रति साब के होश खतरनाक तो 14.400 रुपये सैलरी के दौर में बढ़ जाएंगे। मिली हुई राशि में किसी भी तरह का डोज से कम नहीं है।

By विशाल यादव

मीडिया के क्षेत्र में 3 साल का अनुभव है। 2020 में छत्रपति शाहू जी महाराज फेयर यूनिवर्सिटी से पत्रकारिता की डिग्री प्राप्त की। इसके बाद newschecker.in से करियर की शुरुआत करते हुए तथ्यों को लेकर वैज्ञानिक राइटर के रूप में काम किया, जहां पर 11 महीने काम करने का अनुभव मिला। इसके बाद कृष्ण विश्वविद्यालय में सामग्री राइटर के रूप में 6 महीने काम किया। इसके बाद 6 महीने का फ्रीलांस सामग्री राइट के रूप में काम करने का अनुभव प्राप्त किया। इसके बाद हिंदी समाचार बाइट ऐप को 3 महीने तक सेवा प्रदान की जाती है। अब मैं योजना अलर्ट वेबसाइट पर काम कर रहा हूं। मेरा मकसद शुद्ध, स्पष्ट और सही सामग्री लोगों तक पहुंचाना है।